Wednesday, 28 January 2015

Current Affairs 22nd Jan 2015

1. Sukanya Samriddhi Account (SSA) scheme is initiated on 22 January
The Prime Minister Narendra Modi has announced the name of the scheme last year. Sukanya Samriddi Account Yojna is now started on 22 January 2015. Under the SSA scheme, the special account in the name of a girl child can be opened in a post office by her parents. The interest rate for the account is 9.1% per annum. The account would be valid until the girl child becomes 10 years old.
1. सुकन्या समृद्धि अकाउंट योजना की शुरुआत २२ जनवरी को हुई.
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस योजना की घोषणा बीते वर्ष हे कर दी थी। अब सुकन्या समृद्धि अकाउंट योजना की शुरुआत २२ जनवरी 2015 को की गई है। SSA योजना के अंतर्गत कन्या के माता पिता किसी भी पोस्ट ऑफीस मे उसके नाम से एक विशेष खाता खुलवा सकते हैं। इस खाते पर 9.1% की ब्याज दर लागू होगी। यह बैंक ख़ाता कन्या के 10 वर्ष की हो जाने तक इस योजना के अंतर्गत मान्य रहेगा।

2. SAIL and POSCO are going to establish a plant together in India
A PSU company Steel Authority of India Limited or SAIL and South Korea’s steel company are planning to initiate a new project in Jharkhand. This is going to be an investment of about 18000 crore. The deal is looked as a step towards Make in India campaign.
2. सेल और पोस्को मिलकर भारत मे नये प्लांट की शुरुआत करेंगे.
एक PSU कंपनी SAIL या स्टील अतॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड दक्षिण कोरीया की स्टील कंपनी पोस्को के साथ मिलकर इस नयी योजना की शुरुआत झारखंड मे करेंगे। यह करीब 18000 करोड़ का निवेश होगा। इस संधी को प्रधान मंत्री की "मेक इन इंडिया" अभियां की ओर बढ़ाया गया कदम माना जा रहा है।

3. PM started the Beti Bachao Beti Padhao campaign in Panipat
The Prime Minister has initiated a campaign in Haryana to improve the female child sex ratio in India. The campaign named as “Beti Bachao Beti Padhao”, the goal of the campaign is to end up the female fetal death in the country. A focus on first 100 districts with poor sex ratio will be made.
3. PM ने "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ " अभियान की शुरुआत पानीपथ से की.
प्रधान मंत्री ने हरयाणा से इस अभियान की शुरुआत भारत में लिंग अनुपात में सुधार लाने के लिये की है। इस अभियान को "बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ " का नाम दिया गया है, जिसका लक्ष्य भारत में कन्या भ्रूण हत्या को पूरी तरह समाप्त करना है। पहले 100 सबसे निम्न कन्या लिंग अनुपात जिलों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

4. The DDA and NBCC will tie up to build East Delhi Hub
DDA (Delhi Development Authority) and NBCC (National Buildings Construction Corporation) are going to start the project together. The project will be constructed under the Transit Oriented Development norms. The project is named as the East Delhi Hub can have a 100 storey tower.
4. DDA और NBCC ने ईस्ट डेल्ही हब को बनाने के लिये सन्धि की.
डेल्ही डेवेलपमेंट अतॉरिटी (DDA) तथा नॅशनल बिल्डिंग्स कन्स्ट्रक्षन कॉर्पोरेशन (NBCC) साथ मिलकर एक नयी परियोजना शुरू करेंगे। इस परियोजना का विकास ट्रॅन्सिट ओरियेनटेड डेवेलपमेंट के नियमों के अंतर्गत काइया जाएगा। परियोजना का नाम "ईस्ट डेल्ही hub" होगा जिसमें 100 मंज़िल की इमारत होगी।

5. The BSE Sensex crossed the point of 29,000
The BSE Sensex has created a history by crossing the point of 29,000 on 22nd January 2015. Additionally, Nifty was closed at 8,750. It is a record high reached by the Sensex in the history of the Indian stock market.
5. BSE सेंसेक्स ने 29,000 के अंक को पार किया.
BSE सेंसेक्स ने 22 जनवरी 2015 को 29,000 का आकड़ा पार करके नया इतिहास बन दिया है। साथ हे निफ्टी भी 8,750 अंकों पार बंद हुआ। यह भारतीया स्टॉक बाज़ार के इतिहास का अब तक की रेकॉर्ड ऊचाई है।

6. Yemeni President Mansour Hadi resigned on 22nd January
Abed Rabbo Mansour Hadi resigned from his post of the President on 22nd January 2015. He presented his resignation to the Parliament of Yemen. The President of Yemen was one of the closest collaborators in the struggle against the terrorist group Al Qaida.
6. येमेनी राष्ट्रपति मंसौर हाडी ने 22 जनवरी को इस्तीफा दिया.
अबेड रब्बो मंसौर हडि ने राष्ट्रपति के पद से 22 जनवरी 2015 को इस्तीफा दे दिया है। उन्होने ने अपना इस्तीफा येमेनी पार्लिमेंट को सौपा। यमन के राष्ट्रपति अल क़ायदा के विरुद्ध संघर्ष में अमरीका के सबसे निकटतम सहयोगियों में से थे।

7. Suzlon Energy is willing to sell its German unit named Senvion
Suzlon Energy, a well known wind turbine manufacturing company is willing to sell Senvion SE, its German unit. The company wants to reduce its debt by selling this unit. Suzlon is making a loss for last few years and reason behind this is a reduced global sale of turbine.
7. सुज़्लोंन एनर्जी अपनी जर्मन की इकाई सेंवीओं को बेचना चाहती है.
जानी मानी विंड टर्बाइन निर्माता कंपनी सुज़्लोंन एनर्जी सेनवियन SE को बेचना चाहती है, जो की एक जर्मन की इकाई है। कंपनी इस इकाई को बेच कर अपने कर्ज़ को घटाना चाहती है। कंपनी बीते कुछ वर्षों से घाटा झेल रही है जिसका कारण अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार टर्बाइन की घटी बिक्री है।

0 comments:

Post a Comment

Followers

Recent Jobs

Blog Archive

DMCA.com Protection Status